Is Kadar Hum Unki Mohabbat Me Khogaye

Is Kadar Hum Unki Mohabbat Me Khogaye

Is Kadar Hum Unki Mohabbat Me Khogaye

इस कदर हम उनकी मुहब्बत में खो गए,
कि एक नज़र देखा और बस उन्हीं के हम हो गए,
आँख खुली तो अँधेरा था देखा एक सपना था,
आँख बंद की और उन्हीं सपनो में फिर सो गए।

कोई वादा नहीं फिर भी प्यार है,
जुदाई के बावजूद भी तुझपे अधिकार है.
तेरे चेहरे की उदासी दे रही है गवाही,
मुझसे मिलने को तू भी बेक़रार है.”

“आँखों से दूर दिल के करीब था,
में उस का वो मेरा नसीब था.
न कभी मिला न जुदा हुआ,
रिश्ता हम दोनों का कितना अजीब था.”

“कुछ लम्हे खास हो जाते हैं,
जब अपने साथ निभाते हैं,
वो क्या कर जाते है उन्हें पता नहीं होता,
वो यादो में कब बस जाते है ये हमें पतानहीं होता|”

“प्यार किया तो उनकी मोहबत नज़र आई,
दर्द हुआ हमे तो पलके उनकी भर आई.
दो दिलों की धड़कन में एक बात नज़र आई,
दिल तो उनका धड़का पर आवाज़ इस दिल से आई.”

Is Kadar Hum Unki Mohabbat Me Khogaye

“देर रात जब किसी की याद सताए,
ठंडी हवा जब जुल्फों को सहलाये.
कर लो आंखे बंद और सो जाओ क्या पता,
जिसका है ख्याल वो खवाबों में आ जाये.”

“न तस्वीर है आपकी जो दीदार किया जाये,
न आप पास हो जो प्यार किया जाये,
ये कैसा दर्द दिया है|
न कुछ कहा जाये,
न कुछ सुना जाये|”

“दिल की बात दिल में छुपा लेते हैं वो,
हमको देख कर मुस्कुरा देते हैं वो,
हमसे तो सब पूछ लेते हैं,
पर हमारी ही बात हमसे छुपा लेते हैं वो|”